Search This Blog

Wednesday, September 8, 2010

समय बड़ा बलवान

समय बड़ा बलवान
समय बड़ा बलवान भाइयों, समय बड़ा बलवान.
समय का साथी जो बन पाये, बन जाये धनवान.
समय बड़ा बलवान----

बीता समय कभी नहीं आता, प्रलय भले आ जाये.
बीता कल वर्तमान न होता,सूर्य पश्चिम उग जाये.
अतः समय को समझ ले बन्दे, बन जा श्रेष्ठ महान.
समय बड़ा बलवान ---

मूल्य समय का कृषक से पूछो, फसल सूख जब जाती .
आते यात्री तनिक देर से, रेल चली जब जाती .
समय से कदम मिला ले बन्दे, बन जा सफल सुजान .
समय बड़ा बलवान ...

सफल छात्र होते जीवन में, समय ना व्यर्थ गंवाते .
मानवता की सेवा कर वे, स्वयं को धन्य बनाते .
समय ही जीवन समझ जो पढ़ते, बन जाते यशवान.
समय बड़ा बलवान...

समय एक ऐसी गाड़ी है,चढो लक्ष्य तक पहुँचो.
बिना रुके आगे बढ जाओ , सब मंजिल तक पहुँचो.
युगों युगों के बाद न आता, अब का समय महान.
समय बड़ा बलवान

बीता बचपन फिर ना आता, जवाँ वृद्ध हो जाते.
मौत के बाद हमही ना होते, चर्चा भर हो जाते.
अतः समय के साथ चलो तुम, कर जा कर्म महान.
समय बड़ा बलवान

यही समय है कुछ करने का, कुछ कर के दिखलायें.
जीवन का एक पल भी यूँ ही, हम ना व्यर्थ गँवाएँ.
समय है प्रत्यक्ष देवता, लें उनसे वरदान.
समय बड़ा बलवान

जिसने समय को ठीक पहचाना, अदभुत कर दिखलाया.
समय से आगे बढ़कर उसने, जग को श्रेष्ठ बनाया.
समय की पूजा जो कर पाया, बन बैठा भगवान.
समय बड़ा बलवान भाइयों, समय बड़ा बलवान.
----उमेश यादव, शांतिकुंज,हरिद्वार.

1 comment:

PD said...

पहली बार आपके ब्लॉग पर आया, और अच्छी कवितायें पढ़ने को मिली.. बधाई हो आपको.. :)

मैं अपने ब्लॉग के बैक लिंक को फोलो करके यहाँ तक पहुंचा हूँ, मगर यह समझ नहीं आया कि आपने इस कविता को मेरे एक ब्लॉग पोस्ट से लिंक क्यों कर रखा है? :(